राजस्थान की स्थिति , विस्तार , आकार और सीमा
location-of-rajasthan

राजस्थान की स्थिति , विस्तार , आकार और सीमा

राजस्थान की स्थिति और विस्तार

राजस्थान का आकार

राजस्थान की सीमा

राजस्थान की स्थिति:-

welcome To RPSC GURUराजस्थान भारत के उत्तर पश्चिमी भाग में 23°03′ उत्तरी अक्षांश से 30°12′ उत्तरी अक्षांश तथा 69°30′ पूर्वी देशांतर से 78° 17′ पूर्वी देशांतर के मध्य स्थित है।अर्थात राजस्थान राज्य 7°9′ अक्षांशों और 8°47′ देशांतरों के मध्य विस्तृत हैं, जिसकी पश्चिमी सीमा पाकिस्तान से, उत्तरी और उत्तरी पूर्वी सीमा पंजाब तथा हरियाणा से, पूर्वी सीमा उत्तरप्रदेश एवं मध्यप्रदेश से, दक्षिणी पूर्वी सीमा मध्यप्रदेश से तथा दक्षिणी और दक्षिणी पश्चिमी सीमा मध्यप्रदेश तथा गुजरात से लगी हुई है।राजस्थान की उत्तरी भाग में गंगानगर जिला, गंगानगर तहसील, कोंणा गांव, दक्षिणी भाग में बांसवाड़ा जिला, कुशलगढ़ तहसील, बोरकुंड गांव, पूर्व में धौलपुर जिला, राजाखेड़ा तहसील, सिलाना गांव एवं पश्चिम में जैसलमेर जिला, सम तहसील कटरा गांव में स्थित है।
सूर्य पृथ्वी पर हमेशा पूर्व दिशा में ही सबसे पहले उगता है और सबसे पहले अस्त होता है, इसी कारण राजस्थान में सर्वप्रथम सूर्योदय व सूर्यास्त धौलपुर की राजाखेड़ा तहसील के सिलाना गांव में होता है क्योंकि यह राजस्थान में सबसे पूर्व में स्थित गांव है।
पृथ्वी की जलवायु एवं स्थिति तथा समय का निर्धारण करने के लिए दो रेखाओं का अध्ययन किया जाता है।अक्षांश रेखा हमारी पृथ्वी के ग्लोब पर सामान्यतया आड़ी पूर्व से पश्चिम की ओर खींची जाने वाली रेखा को अक्षांश रेखा कहा जाता है जो इस पृथ्वी की जलवायु एवं स्थिति का निर्धारण करती है।हमारी पृथ्वी को सम्मान दो भागों में विभाजित करने वाली अक्षांश रेखा को हम 0°अक्षांश रेखा / भूमध्य रेखा / विषुवत रेखा कहते हैं।इसी अक्षांश रेखा से पृथ्वी दो भागों उत्तरी गोलार्द्ध एवं दक्षिणी गोलार्द्ध में विभाजित होती हैं और हमारा भारत देश एवं राजस्थान राज्य उत्तरी गोलार्ध में स्थित हैं इसी कारण भारत या राजस्थान राज्य के लिए हमेशा अक्षांश उत्तर से उत्तर चलता है।2. देशांतर रेखा- पृथ्वी के ग्लोब पर सामान्यतया सीधी या खड़ी उत्तर से दक्षिण की ओर खींची जाने वाली रेखा को देशांतर रेखा का जाता है जो इस पृथ्वी के समय का निर्धारण करती हैं।0° देशांतर रेखा भी हमारी पृथ्वी को दो भागों पूर्वी गोलार्द्ध एवं पश्चिमी गोलार्द्ध में विभाजित करती है और हमारा भारत देश एवं राजस्थान राज्य पूर्वी गोलार्द्ध में स्थित है इसी कारण भारत या राजस्थान राज्य के लिए हमेशा देशांतर पूर्व से पूर्व चलता है।1° देशांतर को पार करने में सूर्य को 4 मिनट का समय लगता है और देशांतर रेखाओं की कुल संख्या 360 है।दो देशांतर के मध्य लगभग 111.32 km की दूरी होती है। 0° देशांतर रेखा या ग्रीनविच रेखा इसे क्रमशः पश्चिमी गोलार्द्ध वह पूर्वी गोलार्द्ध में विभाजित करती हैं।भारत का मानक समय 82°30′ पूर्वी देशांतर है जो नैनीताल इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश से शुरू होता है। यह देशांतर रेखा भारत के 5 राज्यों उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़,उड़ीसा, सीमांध्र से गुजरती है।राजस्थान का अधिकांश भाग कर्क रेखा या 23°30′ उत्तरी अक्षांश रेखा के उत्तर में स्थित हैं।

कर्क रेखा राजस्थान के डूंगरपुर जिले की दक्षिणी सीमा पर स्थित चिखली गांव को स्पर्श करती हुई बांसवाड़ा के मध्य कुशलगढ़ तहसील से गुजरती हैं।

राजस्थान में कर्क रेखा की लंबाई 26 किलोमीटर है।

राजस्थान की स्थिती में कर्क रेखा की राजस्थान की अक्षांश स्थिति की शुरुआत वे 23°03′ उत्तरी अक्षांश से होता है और कर्क रेखा की शुरुआत 23°30′ उत्तरी अक्षांश से होता है।अतः राजस्थान की अक्षांशीय स्थिति की शुरुआत व कर्क रेखा के मध्य (23°30′-23°03’= 27′) 27 मिनट का अंतर होता है।सूर्य की सबसे सीधी किरणें भूमध्य रेखा पर पड़ती है और जैसे-जैसे हम भूमध्य रेखा से उत्तर या दक्षिण में बढ़ते हैं, वैसे-वैसे सूर्य की किरणें तिरछी होती है।सूर्य 1 जून को कर्क रेखा (23°30′ उत्तरी अक्षांश) पर सीधा चमकता है एवं इसके बाद में यह दक्षिणायन होना प्रारंभ हो जाता है इसलिए सूर्य की किरणों का सर्वाधिक सीधापन बांसवाड़ा जिला के कुशलगढ़ तहसील के बोरकुंड गांव में एवं सर्वाधिक तिरछापन श्रीगंगानगर जिला के गंगानगर तहसील के कोणा गांव में होता है।कर्क रेखा के सबसे नजदीक जिला मुख्यालय बांसवाड़ा एवं सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर है।

कर्क रेखा भारत के 8 राज्यों से होकर गुजरती है

ट्रिक- ” राम झा के छः बंगु मित्र हैं”

रा- राजस्थान

म- मध्यप्रदेश

झा-झारखंड

छः-छत्तीसगढ़

बं- पश्चिम बंगाल

गु-गुजरात

मि-मिजोरम

त्र-त्रिपुरा

कर्क रेखा के सर्वाधिक लंबाई मध्यप्रदेश में है तो राज्य में कर्क रेखा की सर्वाधिक लंबाई बांसवाड़ा जिले में है।कर्क रेखा की सबसे कम लंबाई त्रिपुरा में है तो राज्य में कर्क रेखा की सबसे कम लंबाई डूंगरपुर जिले में हैकर्क रेखा के नजदीक राजधानी मुख्यालय आइजोल, मिजोरम है तो राज्य में कर्क रेखा के सर्वाधिक नजदीक जिला मुख्यालय बांसवाड़ा है।कर्क रेखा के सर्वाधिक दूर राजधानी मुख्यालय जयपुर है तो राज्य में कर्क रेखा के सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर है।कर्क रेखा पर स्थित राज्य में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य राजस्थान है, तो राज्य में कर्क रेखा पर स्थित सबसे बड़ा जिला बांसवाड़ा है।कर्क रेखा पर स्थित राज्य में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा राज्य त्रिपुरा है, तो राज्य में कर्क रेखा पर स्थित सबसे छोटा जिला डूंगरपुर है।

राजस्थान का विस्तार

राजस्थान का विस्तार पूर्व में धौलपुर जिले की राजाखेड़ा तहसील के सिलाना गांव से पश्चिम में जैसलमेर जिले की सम तहसील के कटरा गांव तक है।राजस्थान की पूर्व से पश्चिम की लंबाई 869 km हैराजस्थान का विस्तार उत्तर में श्री गंगानगर जिले की गंगानगर तहसील के कोणा गांव से दक्षिण में बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ तहसील के बोरकुण्ड गांव तक है।राजस्थान की उत्तर से दक्षिण की चौड़ाई 826 km है। राजस्थान की लंबाई व चौड़ाई में (869-826=43) 43 km का अंतर है।राजस्थान के उत्तर-पश्चिम से दक्षिण-पूर्व तक के विकर्ण की लंबाई 850 km है जबकि राजस्थान के दक्षिण-पश्चिम से उत्तर-पूर्व तक की विकर्ण की लंबाई 784 km है।भारत का अक्षांशीय विस्तार 8°4′ से 37°6′ उत्तरी अक्षांश तथा देशांतरीय विस्तार से 68°7′ से 97°25′ पूर्वी देशांतर है, तो राजस्थान राज्य का अक्षांशीय विस्तार 23°03′ उत्तरी अक्षांश से 30°12′ उत्तरी अक्षांश तथा देशांतर विस्तार 69°30′ पूर्वी देशांतर से 78°17′ पूर्वी देशांतर है।अक्षांश रेखा पर स्थित राजस्थान के जिला मुख्यालय-24° उत्तरी अक्षांश पर = डूंगरपुर और प्रतापगढ़ 25° उत्तरी अक्षांश पर = सिरोही, राजसमंद, चितौड़गढ़, कोटा व बाराँ। 26° उत्तरी अक्षांश पर = सवाई माधोपुर। 27° उत्तरी अक्षांश पर = जैसलमेर, जयपुर व दौसा। 28° उत्तरी अक्षांश पर = बीकानेर व झुंझुनूं। 29° उत्तरी अक्षांश पर = कोई जिला नही। 30° उत्तरी अक्षांश पर = श्री गंगानगर।नोट- 27° उत्तरी अक्षांश को राजस्थान का मध्यवर्ती अक्षांश भी कहते है।देशांतर रेखा पर स्थित राजस्थान के जिला मुख्यालय-70° पूर्वी देशांतर पर = कोई जिला नही 71° पूर्वी देशांतर पर = जैसलमेर 72° पूर्वी देशांतर पर = कोई जिला नही 73° पूर्वी देशांतर पर = जोधपुर व सिरोही 74° पूर्वी देशांतर पर = गंगानगर, नागौर,राजसमन्द, उदयपुर व डूंगरपुर 75° पूर्वी देशांतर पर = चुरू, सीकर व प्रतापगढ़ 76° पूर्वी देशांतर पर = जयपुर व टोंक 77° पूर्वी देशांतर पर = करौली 78° पूर्वी देशांतर पर = धौलपुरनोट- 74° पूर्वी देशांतर को राजस्थान का मध्यवर्ती देशांतर भी कहते है।

राजस्थान का आकार

वैगनआर सिद्धांत के आधार पर राजस्थान राज्य का आकर पतंगाकार, विषमकोणीय,चतुर्भुजाकार है।राजस्थान की आकृति विषम चतुष्कोणीय में पहली बार बताने वाले विद्वान टी.एच. हेंडले था।राजस्थान के अन्य जिलों का आकार-
कटोरेनुमा, प्यालेनुमा, अर्द्धचन्द्राकर – सीकर घोड़े की नाल के समान- रावतभाटा, चित्तौड़गढ़ इल्ली के सामान – चित्तौड़गढ़ ऑस्ट्रेलिया के समान-उदयपुर मयूर के समान -जोधपुर त्रिभुजाकार- अजमेर राजस्थान के आकार के सामान वाला जिला- टोंक सप्तबहुभुजाकार- जैसलमेर तिलक के समान -राजसमंद धनुषाकार -दोसा आयताकार-भीलवाड़ा गिलहरीनुमा- भरतपुर व्हेल मछली के समान- जालौर बैठे हुए मेंढक के समान- सिरोही पानी के पीने की सुरही के समान- जयपुर बत्तख के समान -धौलपुर + करौली कश्मीर के समान संभोग -अजमेर संभाग श्रीलंका के समान संभाग- उदयपुर संभाग
राजस्थान के 2 जिले ऐसे हैं जिनकी सीमा एक बार समाप्त होने के बाद पुनः शुरू होती है- 1. अजमेर (अजमेर + टॉडगढ़) 2. चितौड़गढ़ (चितौड़गढ़ +रावतभाटा)राजस्थान की स्थलीय सीमा-राजस्थान की कोई जलीय सीमा नहीं है, इसलिए यहां पर एक भी बंदरगाह नहीं है लेकिन व्यापार को सुचारू रूप से देने के लिए शुष्क बंदरगाह (I.C.D.) स्थापित किए गए हैं।राजस्थान की सीमा के निकटवर्ती स्थित बंदरगाह गुजरात दीनदयाल बंदरगाह है जो कि अरब सागर के किनारे स्थित एक ज्वारीय बंदरगाह है जहां पर 15 नंबर राष्ट्रीय राजमार्ग समाप्त होता है।राजस्थान की स्थलीय सीमा कुल परिमाप 5920 किलोमीटर है कुल स्थलीय सीमा में से 4850 किलोमीटर सीमा अंतरराज्यीय जो भारत के 5 राज्यों से स्पर्श करती हैं जबकि 1070 किलोमीटर अन्तर्राष्ट्रीय सीमा है जो राज्य की कुल सीमा का 18.07% भाग है।अन्तर्राष्ट्रीय सीमा राजस्थान व भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान से स्पर्श करती है-

1. राजस्थान की अंतर्राष्ट्रीय सीमा-

दो देशों के मध्य पाई जाने वाली सीमा को अंतर्राष्ट्रीय सीमा कहते हैं राजस्थान की पाकिस्तान देश के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा लगती है जो रेडक्लिफ रेखा का एक भाग है।

यह सीमा भारत और पाकिस्तान के मध्य आजादी के समय इंग्लैंड के माने हुए वकील सर सीरिल रेडक्लिफ द्वारा 14 अगस्त 1947 में निर्धारित की गई जो 15 नं. राष्ट्रीय राजमार्ग एवं सिंधु नदी के समांतर स्थित है अतः अंतर्राष्ट्रीय सीमा का नाम रेडक्लिफ रेखा पड़ा।रेडक्लिफ रेखा की कुल लंबाई 3310 किलोमीटर है।यह रेखा भारत के 4 राज्यों के साथ सीमा बनाती है- (1.) जम्मू कश्मीर- 1216 km (2.) राजस्थान- 1070 km (3.) पंजाब- 514 km (4.) गुजरात- 510 kmरेडक्लिफ रेखा के साथ सर्वाधिक सीमा जम्मू कश्मीर व न्यूनतम सीमा गुजरात राज्य में बनाता हैइस रेडक्लिफ रेखा की कुल लंबाई राजस्थान में 1070 किलोमीटर है जो राजस्थान के 4 जिलों को स्पर्श करती हैंरेडक्लिफ रेखा की राजस्थान में शुरुआत गंगानगर जिले की गंगानगर तहसील के हिंदूमलकोट (हिंदूमलकोट भारत-पाकिस्तान विभाजन के समय एक बड़ा कस्बा था जो वर्तमान में एक छोटा सा गांव था) नामक स्थान से होती है जो पंजाब राज्य के फाजिल्का जिले से 10 किलोमीटर दूर स्थित है जबकि इस अंतर्राष्ट्रीय सीमा का अंत बाड़मेर जिले की शाहगढ़ (चौहटन) तहसील के बाखासर गांव में होती है।पाकिस्तान के सहारे राजस्थान के स्थित चार जिलों की सीमा- ट्रिक- “बीग बाजे” बी-बीकानेर (168 km) ग-गंगानगर (210 km) बा-बाड़मेर (228 km) जे-जैसेलमेर (464 km)पाकिस्तान के 9 जिलों (बहावलपुर ,बहावलनगर, रहीमयारखान,पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के तथा घोटकी, सुकूर, खेरपुर, संघर उमरकोट व थारपारकर पाकिस्तान के सिंध प्रांत के) की सीमा राजस्थान से लगती है।पाकिस्तान की सीमा पर स्थित जिलों में सर्वाधिक नजदीक जिला मुख्यालय गंगानगर है तो सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय बीकानेर है लेकिन पाकिस्तान से नजदीक राजस्थान का जिला मुख्यालय जालौर है तो सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय धौलपुर है।पाकिस्तान की सीमा पर स्थित क्षेत्रफल के आधार पर राजस्थान के जिलों में सबसे बड़ा जिला जैसलमेर है तो पाकिस्तान की सीमा पर स्थित राजस्थान के जिलों में से सबसे छोटा जिला गंगानगर है।पाकिस्तान के साथ सर्वाधिक सीमा राजस्थान के जैसलमेर की लगती है तो न्यूनतम सीमा राजस्थान के बीकानेर की लगती हैं।राजस्थान के साथ सर्वाधिक सीमा पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की लगती है तो न्यूनतम सीमा पाकिस्तान के सिंध प्रांत की लगती है।राजस्थान की सीमा के नजदीक पाकिस्तान का बड़ा शहर लाहौर हैं तो राजस्थान की सीमा के दूर पाकिस्तान का बड़ा शहर कराची है।राजस्थान की सीमा पर स्थित पाकिस्तान के राज्यों में सबसे बड़ा (क्षेत्रफल) राज्य पंजाब प्रांत है तो राजस्थान की सीमा पर स्थित पाकिस्तान के राज्यों में से सबसे छोटा (क्षेत्रफल) राज्य सिंध प्रांत है।राजस्थान की सीमा पर स्थित पाकिस्तान के राज्यों में सबसे बड़ा (क्षेत्रफल) राज्य पंजाब प्रांत है तो राजस्थान की सीमा पर स्थित पाकिस्तान के राज्यों में से सबसे छोटा (क्षेत्रफल) राज्य सिंध प्रांत है।2 अन्तर्राज्यीय सीमा- दो राज्यों के मध्य पाई जाने वाली सीमा को अन्तर्राज्यीय सीमा कहते हैं।राजस्थान की 5 राज्यों के साथ अन्तर्राज्यीय सीमा लगती है।राजस्थान के उत्तर में पंजाब राज्य हैं जो राजस्थान के साथ सबसे कम 89 किलोमीटर की अन्तर्राज्यीय सीमा बनाता है। उत्तर पूर्व में हरियाणा जो 1216 किलोमीटर की, पूर्व में उत्तरप्रदेश जो 877 किलोमीटर, दक्षिण-पूर्व में मध्यप्रदेश जो राजस्थान के साथ में सर्वाधिक 1600 किलोमीटर की अन्तर्राज्यीय सीमा बनाता है। तथा दक्षिण-पश्चिम में गुजरात राज्य 1022 किलोमीटर की सीमा बनाता है।राजस्थान के साथ सीमा बनाने वाले राज्य- ट्रिक- “पं. हरिया U.P. में गुजरा”पं.- पंजाब (89 km) (न्यूनतम सीमा) हरिया- हरियाणा (1216km) U.P.- उत्तरप्रदेश (877 km) में-मध्यप्रदेश (1600 km) (सर्वाधिक सीमा) गुजरा- गुजरात (1022 km)राजस्थान राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक गुजरात राज्य की राजधानी मुख्यालय गांधीनगर हैं तो सर्वाधिक दूर उत्तरप्रदेश राज्य की राजधानी लखनऊ है। राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य मध्यप्रदेश है, तो क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा राज्य हरियाणा है।पंजाब राज्य से लगने वाले राजस्थान के 2 जिले- ट्रिक- ‘श्री हनुमान’ श्री श्रीगंगानगर (सर्वाधिक सीमा) हनुमान- हनुमानगढ़ (न्यूनतम सीमा) नोट- पंजाब राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक व क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिला मुख्यालय गंगानगर है, तो सर्वाधिक दुर व क्षेत्रफल में सबसे छोटा जिला मुख्यालय हनुमानगढ़ है।राजस्थान के 7 जिले जो हरियाणा के साथ सीमा बनाते हैं- ट्रिक- हरियाणा में ‘अलभरसिंह जयपुर से झुंझुनूं चुरा’ 1 अल- अलवर 2 भर-भरतपुर 3 सि- सीकर 4 ह- हनुमानगढ़ (सर्वाधिक सीमा) 5 जयपुर- जयपुर 6 झुंझुनूं- झुंझुनूं 7 चुरा- चुरूनोट- हरियाणा राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक जिला मुख्यालय हनुमानगढ़ है, तो सर्वाधिक दूध जिला मुख्यालय जयपुर है। हरियाणा राज्य की सीमा पर राज्य का क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिला चुरू है, तो हरियाणा राज्य की सीमा की पर स्थित राज्य का क्षेत्रफल में सबसे छोटा जिला झुंझुनू है।राजस्थान और उत्तर प्रदेश को एक दूसरे को स्पर्श करने वाले जिले- ट्रिक- ‘आम भर धौ’आ- आगरा (सर्वाधिक सीमा) म- मथुरा (न्यूनतम सीमा) भर- भरतपुर (सर्वाधिक सीमा) धौ- धौलपुर (न्यूनतम सीमा)नोट- उत्तर प्रदेश राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक व क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिला मुख्यालय भरतपुर हैं तो सर्वाधिक दूर व क्षेत्रफल में सबसे छोटा जिला मुख्यालय धोलपुर हैं। राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा जिला आगरा है, तो सबसे छोटा जिला मथुरा है।राजस्थान के 10 जिले जो मध्यप्रदेश (M.P.) के साथ सीमा बनाते हैं- ट्रिक- M.P. में “बाबा को चित्रांग प्रताप और साझा भी धौके”1 बा-बांसवाड़ा 2 बा-बाराँ 3 को-कोटा 4 चित्रांग-चित्तौड़ 5 प्रताप-प्रतापगढ़ 6 सा-सवाई माधोपुर 7 झा-झालावाड़ (सर्वाधिक सीमा) 8 भी-भीलवाड़ा (न्यूनतम सीमा) 9 धौ-धौलपुर 10 के-करौलीनोट- मध्य प्रदेश राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक जिला मुख्यालय धौलपुर है,तो सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय भीलवाड़ा है। मध्य प्रदेश राज्य की सीमा पर राज्य का क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिला भीलवाड़ा है, तो सबसे छोटा जिला धौलपुर है।राजस्थान के 6 जिले जो गुजरात के साथ सीमा बनाते हैं- ट्रिक- गुजरात मे “बाबा जासी उदय डुगरी” 1 बा- बाड़मेर 2 बा – बांसवाड़ा 3 जा-जालौर 4 सी-सिरोही 5 उदय-उदयपुर 6 डूंगरी- डूंगरपुरनोट- गुजरात राज्य की सीमा के सर्वाधिक नजदीक जिला मुख्यालय डूंगरपुर है, तो सर्वाधिक दूर जिला मुख्यालय बाड़मेर है। गुजरात राज्य की सीमा पर राज्य का क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिला बाड़मेर है तो सबसे छोटा जिला डूंगरपुर है।राजस्थान का कौन सा जिला है जिसके साथ सर्वाधिक जिलों की सीमा लगती है? उत्तर- पाली (8 जिलों की)ट्रिक- पाली से “अजय बनारसी उदयपुर जाजो”1 अजय- अजमेर 2 ब- बाड़मेर 3 ना- नागौर 4 र-राजसमंद 5 सी-सिरोही 6 उदयपुर- उदयपुर 7 जा- जालौर 8 जो-जोधपुरराजस्थान के Land Lock District या आंतरिक जिले जो किसी भी राज्य से सीमा नहीं बनाते हैं और ना ही किसी देश से-ट्रिक- “जोधा ना टोक अजय-राजपाल दो बन्दू”1जोधा- जोधपुर 2 ना- नागौर 3 टोक- टोंक 4 अजय- अजमेर 5 राज- राजसमंद 6 पाल-पाली 7 दो- दौसा 8 बन्दू-बूंदीहरियाणा के 8 जिले जो राजस्थान के साथ सीमा बनाते हैंट्रिक- हरियाणा “म भी सिर्फ गुड़ और मेवा रेवड़ी ही” मिलती है1 म- महेंद्रगढ़ 2 भी- भिवानी 3 सिर- सिरसा 4 फ- फतेहाबाद 5 गुड़- गुड़गांव 6 मेवा-मेवात 7 रेवड़ी- रेवाड़ी 8 ही- हिसारनोट- राजस्थान राज्य की हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले से सर्वाधिक सीमा लगती है तो सबसे कम सीमा फतेहाबाद जिले की लगती है।राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से हरियाणा का सबसे बड़ा जिला भिवानी है तो सबसे छोटा जिला रेवाड़ी है।मध्य प्रदेश (M.P.)के 10 जिले जो राजस्थान के साथ सीमा बनाते हैं-ट्रिक- M.P. में “रामु और झाबू अगर शिश्यो म निम के गुर” सीखते है1 रा- राजगढ़ 2 मू- मुरैना 3 झाबू- झाबुआ 4 अगर- अगर मालवा 5 शि- शिवपुरी 6 श्यो-श्योपुर 7 म- मंदसौर 8 निम- नीमच 9 गु-गुना 10 र- रतलामनोट- राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा जिला शिवपुरी है, तो सबसे छोटा जिला अगर मालवा है। -16 अगस्त 2013 को मध्यप्रदेश में शाजापुर से अलग करके 51वाँ जिला अगरमालवा को बनाया गया । अतः वर्तमान में शाजापुर राजस्थान के साथ सीमा न बनाकर अगरमालवा बनाता है।गुजरात के 6 जिले जो राजस्थान के साथ में बनाते हैं- ट्रिक- गुजरात मे “कसाब को अराम दो”1 क- कच्छ 2 सा- साबरकांठा 3 ब-बनासकांठा 4 अरा- अरावली (नया जिला) 5 म- महीसागर (नया जिला) 6 दो- दाहोदनोट- पंचमहल जिले को तोड़कर दो नए जिले अरावली व महीसागर बनाए गए हैं। राजस्थान राज्य की गुजरात के बनासकांठा जिले से सर्वाधिक सीमा लगती है तो सबसे कम सीमा कच्छ जिले की लगती है। राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से गुजरात का सबसे बड़ा जिला कच्छ है तो सबसे छोटा जिला महीसागर है।पंजाब के 2 जिले जो राजस्थान के साथ सीमा बनाते हैं- ट्रिक- पंजाब का “FM”F- फाजिल्का M- मुक्तसरनोट- राजस्थान राज्य की पंजाब के फाजिल्का जिले से सर्वाधिक सीमा लगती हैं, तो सबसे कम सीमा मुक्तसर जिले की लगती है। राजस्थान राज्य की सीमा पर क्षेत्रफल की दृष्टि से पंजाब का सबसे बड़ा जिला फाजिल्का है, तो सबसे छोटा जिला मुक्तसर है।
Print Friendly, PDF & Email

RPSC GURU

RPSC GURU IS A EDUCATIONAL WEBSITE A PROVIDE MATHS NOTES , SCIENCE NOTES , WORLD AND INDIAN GEOGRAPHY FOR UPSC IAS PCS RPSC UPPCS , SSC AND ALL GOVT EXAM

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply

Close Menu